महिलाओं की पेंशन योजना : जानें, कैसे मिलेंगे 45,000 रुपये हर माह 

महिलाओं की पेंशन योजना : जानें, कैसे मिलेंगे 45,000 रुपये हर माह 

Published Date - 13 Jan 2022

न्यू पेंशन सिस्ट अकाउंट में छोटा सा निवेश आपके परिवार को करेगा खुशहाल 

आजकल महंगाई के इस युग में हर कोई भविष्य के लिए कुछ करना चाहता है। अगर आप भी ऐसा सोच रहे हैं और आप स्वयं कहीं पर जॉब करते हैं तो बता दें कि आप अपनी पत्नी के भविष्य के लिए यह शानदार स्कीम ले सकते हैं। इस न्यू पेंशन सिस्ट अकाउंट में आपको छोटा सा निवेश करना होगा। यह स्कीम इतनी लाभदायक है कि आप जानकर हैरान रह जाएंगे। स्कीम के तहत महिला की उम्र 60 साल होने पर पेंशन मिलना शुरू होती है। यह पेंशन राशि हर माह 45,000 रुपये तक हो सकती है। आइए, जानते हैं क्या है महिलाओं के सुखद भविष्य के लिए यह पेंशन स्कीम। 

योजना के तहत खोलना होगा एनपीएस एकाउंट 

बता दें कि महिलाओं के लिए पेंशन योजना के अंतर्गत हर महीने एनपीएस एकाउंट में निवेश करना होगा। आप यदि अपनी पत्नी के लिए पेंशन चाहते हैं तो अपनी सेलेरी का एक छोटा सा हिस्सा यानि 1,000 रुपये से भी यह स्कीम शुरू कर सकते हैं। यह राशि हर माह पत्नी की उम्र 60 वर्ष होने तक जमा करानी होगी। न्यू पेंशन स्कीम में यह राशि जमा कराने से आपका पैसा भी सुरक्षित रहेगा और जब यह एकाउंट मैच्योर हो जाएगा तो निश्चित एकमुश्त राशि के मिलने के अलावा हर महीने पत्नी के नाम पेंशन राशि भी जारी होती रहेगी। इस तरह से आप अपनी पत्नी के भविष्य को उज्ज्वल बना सकते हैं। 

यह है पेंशन का शानदार प्लान 

न्यू पेंशन स्कीम के तहत महिलाओं के लिए पेंशन के प्लान को इस तरह से समझा जा सकता है। यदि आपकी पत्नी की उम्र 30 वर्ष है और आप उनके एनपीएस एकाउंट में हर महीने 5,000 रुपये निवेश करते हैं। अगर उन्हे निवेश पर सालाना 10 प्रतिशत रिटर्न मिलता तो 60 वर्ष की आयु होने पर उनके खाते में कुल 1 करोड़ 12 लाख रुपये होंगे। उनको इसमें से लगभग 45 लाख रुपये आसानी से मिल जाएंगे। योजना की खास बात यह है कि हर महीने पत्नी को जीवन भर 45,000 रुपये पेंशन मिलती रहेगी। 

आपके घर की जरूरतें पूरी होंगी 

इस महंगाई के जमाने में हर कोई पैसा बचा कर अपनी जरूरतों को पूरा करना चाहता है। अगर पति-पत्नी में से एक ही नौकरी हो तो घर चलाना मुश्किल हो जाता है। ऐसे में महिलाओं के लिए न्यू पेंशन स्कीम शुरू की गई है। इसमें जब एकमुश्त पैसा और हर माह पेंशन मिलती है तो घर की छोटी से बड़ी जरूरतें भी पूरी करने में कोई दिक्कत नहीं होती। वहीं परिवार का भविष्य भी सुरक्षित बन जाता है। 

विधवा महिलाओं के लिए है सरकारी पेंशन योजना 

केंद्र सरकार ने देश की सभी वर्गों के लिए कई खास योजनाएं शुरू कर रखी हैं। इनमें किसानों, महिलाओं और गरीब लोगों की योजनाएं हैं। यहां विधवा महिलाओं की पेंशन योजना के बारे में जानकारी दी जा रही है। आइए जानते हैं इसके अंतर्गत हरियाणा, राजस्थान और यूपी में इस स्कीम में कितनी पेंशन दी जा रही है? 

जानें, क्या है विधवा पेंशन योजना के बारे में 

बता देें कि विधवा महिला पेंशन स्कीम 2022 के तहत वे महिलाएं ही इसका लाभ ले सकती हैं जो विधवा श्रेणी में आती हैं और इन्हे अन्य किसी प्रकार की पेंशन योजना का लाभ नहीं मिल रहा हो। इसके महिला की 18 वर्ष से अधिक या 60 साल के आसपास हो। योजना में पेंशन के लिए आवेदक महिला का आधार कार्ड, पति की मृत्यु का प्रमाणपत्र, बैंक एकाउंट, पासबुक, मोबाइल नंबर और पासपोर्ट साइज का फोटो जरूरी है। 

हरियाणा में कितनी मिलती है विधवा पेंशन 

बता दें कि विधवा पेंशन योजना के अंतर्गत अलग-अलग राज्यों में सरकार की ओर से देय राशि भी अलग-अलग होती है। हरियाणा में 2250 रुपये प्रतिमाह विधवा पेंशन दी जाती है। इसके लिए महिला की वार्षिक आय 2 लाख रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए। 

उत्तरप्रदेश में विधवा पेंशन योजना 

उत्तरप्रदेश में विधवा महिला के लिए मात्र 300 रुपये प्रतिमाह पेंशन दी जाती है। इस पेंशन राशि को खाताधारक महिलाओं के बैंक एकाउंट में सीधे भेजा जाता है। 

इन राज्यों में इतनी मिलती है विधवा पेंशन 

बता दें कि यूपी, हरियाणा के अलावा अन्य सभी राज्यों में भी विधवा महिलाओं को पेंशन प्रदान करने की योजनाएं संचालित होती हैं। दिल्ली में विधवा पेंशन योजना में प्रति तिमाही 2500 रुपये, गुजरात में 1250 रुपये प्रतिमाह, उत्तराखंड में 1200 रुपये एवं राजस्थान में 750 रुपये प्रतिमाह विधवा पेंशन दी जाती है। 

बिहार में लक्ष्मीबाई सामाजिक सुरक्षा योजना 

बता दें कि अन्य राज्यों की तरह ही बिहार में भी महिलाओं के कल्याण के लिए स्कीम शुरू की गई है। इस योजना का नाम है लक्ष्मीबाई सामाजिक सुरक्षा योजना। इसके अंतर्गत महिलाओं को 3600 रुपये सालाना मिलते हैं। यह योजना विधवा महिलाओं के अलावा ऐसी महिलाओं के लिए भी लागू है जिनकी आर्थिक स्थिति बहुत कमजोर है।  इस योजना में शामिल होने के लिए महिला के परिवार की आय 60 हजार रुपये से ज्यादा नहीं होनी चाहिए। योजना में ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनो तरह से एप्लाई किया जा सकता है। 

आवेदन के लिए ये दस्तावेज हैं जरूरी 

बिहार सरकार की ओर से जारी लक्ष्मीबाई सामाजिक सुरक्षा योजना  में आवेदन के लिए जो दस्तावेज जरूरी हैं उनमें आधार कार्ड, निवास स्थान प्रमाण पत्र, बीपीएल राशन कार्ड, मोबाइल नंबर, बैंक एकाउंट डिटेल्स, पासपोर्ट साइज फोटो, ई मेल आई डी, पहचान पत्र एवं आय प्रमाण पत्र शामिल हैं। 

ट्रैक्टरफर्स्ट हर माह कैप्टन ट्रैक्टर व ऐस ट्रैक्टर कंपनियों सहित अन्य कंपनियों की मासिक सेल्स रिपोर्ट प्रकाशित करता है। ट्रैक्टर्स सेल्स रिपोर्ट में ट्रैक्टर बिक्री की थोक, खुदरा, राज्यवार, जिलेवार, एचपी के अनुसार जानकारी दी जाती है। साथ ट्रैक्टरफर्स्ट आपको रिपोर्ट की मासिक सदस्यता भी प्रदान करता है। अगर आप मासिक सदस्यता प्राप्त करना चाहते हैं तो हमसे संपर्क करें।

ट्रैक्टर इंडस्ट्री के अपडेट जानने के लिए आप हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें -  https://www.youtube.com/c/TractorFirst

Website     -   TractorFirst.com
Instagram  -   https://bit.ly/3h0j9jE
FaceBook  -   https://bit.ly/3yF7AnV

TractorFirst Google News

Related News

Read this also

Cancel

New Tractors

Implements

Harvesters